Friday, February 5, 2010

मेरा नाम निल्ज़े सिल्विया है

मेरा नाम निल्ज़े सिल्विया है ,मै ब्राज़ील से हूँ. भारत में मै बच्चो के स्वास्थं और पोषण को लेकर काम कर रहे एक स्वम सेवी संघ से जुडी हूँ,,, भारत में मुझे लगभग १० साल हो गए है,, इतने लम्बे समय में मै भारत को अच्छी तरह से समझने लगी हूँ या सच कहूँ तो मै खुद भारतीय हो गयी हूँ ,, भारतीय खाना भारतीय पहनावा (केवल वो जो निजता न हरता हो ) और भारतीय लोग बहुत पसंद है ,,, हिंदी मैंने यहाँ आने से पहले ही सीखनी शुरू कर दी थी ,, अब मै गर्व से कह सकती हूँ की मै अब अच्छी हिंदी भाषी हूँ ( कुछ उचारण सम्बन्धी और मात्राओं की गलतियों को छोड़ कर जो मुझे लगता है आप लोगो के संपर्क में आने से दूर हो जाए गी ) हिंदी में ब्लॉग लिखने के लिए मेरे एक मित्र ने बहुत मदद की जिनके प्रयाश से ही आज मै हिंदी ब्लोगिंग में कदम रख रही हूँ आप के सहयोग की आवश्यकता है ,,,,,

18 comments:

  1. आईये, आपका स्वागत है. नियमित लिखें, शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  2. ब्लॉगिंग के उज्ज्वल भविष्य के लिए हार्दिक शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  3. निल्जे , आपका हिन्दी ब्लॉग पढ़कर बहुत ही खुशी हुई । उम्मीद है कि ब्राज़ील के बारे में भी कभी-कदाच बताती रहेंगी ।

    ReplyDelete
  4. सिल्वीया जी आपका स्वागत है। बहुत उत्सुकता से आपकी पोस्ट की इन्तज़ार रहेगी। शुभकामनायें हमे ब्राज़ील के बारे मे भी बतायें वैसे हमे वो ब्राज़ील वाला गीत बहुत अच्छा लगता है कदमों मे लय भर देता है। बस ब्राज़ील ही समझ आता है मगर धुन बहुत उत्साहवर्द्धक है शुभकामनायें

    ReplyDelete
  5. निल्जे जी !
    ब्लॉग - जगत में स्वागत करता हूँ आपका ..
    निजता को बचाते हुए अन्य के प्रति आपका अनुराग सराहनीय है ..
    निजता को प्रेम करने वाला ही अन्य की निजता की क़द्र भी समझता है ..
    आप दूर देश की वासी हो कर इतनी अच्छी हिन्दी लिख रही हैं , यह अलग से सराहनीय है ..
    उम्मीद है की आपकी लेखनी से अच्छी और अलग किस्म की चीजें पढने को मिलेंगी .. आभार !

    ReplyDelete
  6. आइये सिल्विया जी आपका स्वागत है.

    ReplyDelete
  7. आप को पढ़ना सुखद रहा। आप ने बहुत अच्छी हिन्दी लिखी है। आप से अनुरोध है कि नियमित रहिए।

    कुछ वर्तनी दोष हैं, दूर कर लीजिए:

    स्वास्थं - स्वास्थ्य
    स्वम सेवी - स्वयमसेवी
    उचारण - उच्चारण
    प्रयाश - प्रयास

    ऐसी ग़लतियाँ हिन्दी भाषी भी करते हैं। आप को अपनी हिन्दी पर गर्व होना चाहिए। आप की लगन और विनम्रता अनुकरणीय है।
    कृपया word verification हटा दें।

    ReplyDelete
  8. आपको यहा देखकर मन प्रफ़ुल्लित हुआ. स्वागत है आपका ब्लोग जगत मै
    harisharmaster@gmail.com
    http://hariprasadsharma.blogspot.com/
    http://sharatkenaareecharitra.blogspot.com/

    ReplyDelete
  9. वाह क्या हिन्दी लिखती है आप !

    ReplyDelete
  10. स्वागत है आपका, मैं भी ब्लोग जगत मे नइ हू, पर बहुत साथ मिलत है यहा.

    ReplyDelete
  11. सिल्विया जी आपका स्वागत है

    कृपया कमेन्ट पर वार्ड वेरीफिकेशन हटा दीजिए कमेन्ट करने वालों को परेशानी होती है

    ReplyDelete
  12. ssब्लॉग जगत में आप का स्वागत है हम आप के उज्जवल भविष्य की कामना करते है
    सादर
    प्रवीण पथिक
    9971969084

    ReplyDelete
  13. सिल्विया
    प्यार
    तुम्हारा ब्लोग पढ़ा,अच्छा लगा. भारत में लाख समस्याएं हो भले ही मगर ये एक बहुत खूबसूरत देश है. अच्छे बुरे लोग दुनिया के हर कोने में पाए जाते हैं. इं कुछ सालों में भारत ने जो उन्नति की है उसे तुम (सॉरी, आप नही बोलूंगी क्योंकि तुम मेरे बच्चों से भी छोटी हो)स्पष्ट देख सकती हो. आगे भी तुम्हारे ब्लोग को पढ़ना चाहूंगी. मेरा अपना एक ब्लोग है चाहो तो आ सकती हो.
    प्यार
    इंदु पुरी
    moon-uddhv.blogspot.com

    ReplyDelete
  14. हिंदी ब्लॉग की दुनिया में आपका स्वागत है. भारत को अपनी कर्मभूमि चुनने के साथ साथ आपने हिंदी को भी अपनाया , इस के लिए आप बधाई की पात्र हैं I

    ReplyDelete